What is e-RUPI in Hindi Full Details 2021

What is e-RUPI in Hindi  Full Details

2 August 2021 को श्री नरेन्द्र मोदी जी एक नया प्लेटफॉर्म को लांच की जिसका नाम है e -RUPI or e-Rupee ये यूपीआई की तरह ही काम करेगा लेकिन एकदम यूनिक होगा इससे चोरी नहीं हो पाएगी जिस काम के लिए दिया जाएगा वही काम हो सकता है। e-RUPI जिसका Full Form Electronic Rupee Unified Payment Interface होता है। UPI और e-RUPI इन दोनों को बनाया है, NPCI ने जिसका Full Form होता है National Payment Corporation Of India (भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम) 

तो हम इसमें जानेगे की  e-RUPI क्या है तथा यह कैसे काम करता साथ हम जानेंगे की इसका क्या फायदा है और क्या नुकसान हो सकता है?

e-RUPI क्या है? (What is e-RUPI?)

e-RUPI UPI का ही एक एडवांस वर्जन है। इसका शुरुआत 2 August 2021 को हुआ है। और UPI 11 अप्रैल 2016 से ही चल रहा है। यह एक ऐसा पेमेंट सिस्टम है जिसका उपयोग आप बिना कैश और बिना अकाउंट बैलेंस उपयोग के  पेमेंट कर सकते है।  इसमें आपको गवर्नमेंट या किसी भी कंपनी के माध्यम से उपयोग के लिए कैश पेमेंट या आपके बैंक एकाउंट में ना देकर आपको एक QR Code दिया जाता है। ये QR Code आपको कम्पनी या गवर्नमेंट जिस उपयोग के लिए दी है आप वहा यह QR Code दिखा कर पेमेंट कर सकते है। 

e-RUPI kaise Kam Karta Hai? (How does e-RUPI work?)

Example 1: जब आपको सरकार के तरफ से रुपया दिया जता है। 

अगर आप एक किसान है और आपको सरकार रु1000 यूरिया खरीदने के लिए देना चाहती है। तो आपको सरकार पैसा e-RUPI के माध्यम से देगी। 

अब आपको e-RUPI के माध्यम से रुपया कैसे मिलेगा। 
सरकार आपके नंबर से एक QR Code बना कर आपके मोबाइल में भेज देगी। ये QR Code आप केवल उस यूरिया के ही दुकान में उपयोग कर सकते है। अगर आप किसी अन्य दुकान से कोई और सामान लेते है तो ये QR Code से पेमेंट नहीं हो पायेगा। 

क्यों इसका कारन है NPCI क्योंकी  NPCI ही QR Code आपको बना कर देती है। और ये QR Code जो सामान खरीदने के लिए दिया जाता वे सामान इंडिया में जहा जहा मिलता है वंहा यह QR Code भेजा हुआ रहता है। यही कारण होता है की आपका पेमेंट किसी अन्य दुकान में नहीं होता है। 

Example 2: जब आपको कंपनी किसी काम से बाहर जाने की पैसा दे रही है। 

मान लीजिए की आप TATA कंपनी के वर्कर है और आपको कम्पनी किसी काम से मुंबई भेज रही है। साथ में आपको कम्पनी रहने और खाने पिने का कुछ खर्च देती जैसे आपको कम्पनी 20 हज़ार रुपया ताज होटल में रहने के लिए दे रही है। तो आप सोचो गए की ताज होटल में नहीं रह कर कोई और होटल में रह लेंगे। जिससे आपके कुछ पैसे बच जायेंगे। तो इस तरह कम्पनी का तो लॉस हो जायेगा।
लेकिन अब कम्पनी ऐसा नहीं करेगी। 

अब कंपनी बैंक से बोलेगा की मेरे को 20 हज़ार रुपया ताज होटल का कूपन दे दीजिए। जब बैंक आपको 20 हज़ार रुपया का कूपन देगी तो कुछ चार्ज भी लेगी। अब ये बैंक NPCI को QR Code बनाने के लिए request भेजंगे और NPCI और NPCI एक मिनट के अंदर QR Code बना कर दे देगी। और कम्पनी आपको यह 20 हज़ार रुपया ताज होटल में रहने का QR Code दे देगी।

NPCI तीन QR Code बनाएगा एक QR Code NPCI अपने पास रखेगा। दूसरा QR Code बैंक के पास रहेगा। और तीसरा QR Code कम्पनी जिसको देना चाहती है उसके पास रहेगा। 

e-RUPI का क्या फायदा है? 

1. यह एक QR Code या SMSआधारित e-Voucher है, जो लाभार्थियों के मोबाइल पर पहुंचाया जाता है।
2. इसमें सरकार के तरफ से मिलने वाला लाभ डाइरेक्ट आपके पास आएगा किसी भी तरह थर्ड पार्टी का योग  होगा।
3. इन e-Voucher का उपयोग निजी क्षेत्र द्वारा अपने कर्मचारी कल्याण और Corporate Social जिम्मेदारी कार्यक्रमों के लिए भी किया जा सकता है।

e-RUPI Kya Hai? Check Full Details in Hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top