IIT Kya Hai – आईआईटी क्या हैं? 2022

IIT Kya Hai: भारत के लगभग सभी छात्र IIT का नाम ज़रूर सुने होंगे। और कुछ छात्र इसके बारे में जानते बहुत अच्छे से जानते भी होंगे। लेकिन मेरा यह आर्टिकल उन छात्रों के लिए है जो IIT के नाम तो सुने है लेकिन इसके बारे के जानते नही है, यानी आईआईटी की जानकारी उन्हें नहीं है। बहुत से छात्र या ऐसे भी होंगे जिन्होंने IIT का नाम सुना ही नहीं होगा।

लेकिन आज हम आपको इस आर्टिकल के मध्यम से आपको IIT Kya Hai – IIT क्या हैं? इसकी सभी जानकारी जैसे IIT क्या हैं?, IIT कैसे करते हैं?, IIT का परीक्षा कैसे दे?, आईआईटी का Full Form क्या होता हैं?, आईआईटी में एडमिशन कैसे लें? इत्यादि IIT से जुड़ी सभी जानकारी आपको इस आर्टिकल में मिलेगा तो कृपया आप हमारे इस पोस्ट को पूरा अंत तक पढ़े।

IIT Kya Hai - आईआईटी क्या हैं?

IIT Kya Hai – आईआईटी क्या हैं?

IIT Indian Government द्वारा स्थापित एक टेक्नोलॉजी एजुकेशन इंस्टिट्यूट्स है। जिसकी स्थापना मई 1950 में हुआ था। जिसका मुख्य उद्देश्य भारत के छात्रों को Science और Technology के फील्ड में उच्च शिक्षा प्रदान करता है। भारत का सबसे पहला IIT Institute खड़गपुर था। जिसे भारत सरकार के द्वारा 1951 में स्थापित किया गया था। आज के समय में भारत में कुल 23 IIT College जो भारत के अलग अलग राज्य में स्थित है। 

भारत के ऐसे छात्र जो Science और Technology में रुचि रखते है या फ़िर Engineering करना चाहते है। ऐसे छात्र जरूर IIT की परीक्षा देकर एक अच्छा कॉलेज से Engineering करने के लिए एडमिशन लेते हैं। IIT एक ऐसी संसथान जो न केवल भारत की बल्कि दुनिया की सबसे प्रतिष्ठित संस्थानों में से एक है। IIT में पढ़ने के बाद आप देश के कई हाई लेवल Scientist, Researcher, Technologist और Engineer बनते है। 

जब भी भारत के छात्रों को इंजीनियरिंग करने को होता है या करना चाहते है तो सबसे पहले उनके दिमाग में IIT का नाम आता है, और आए भी क्यों न IIT भारत का प्रतिष्ठित संस्थान में से एक है। भारत के आईआईटी से लाखो छात्र कुशल और होनहार इंजीनियर बनते है। तभी तो ये बड़े बड़े बिदेसी कम्पनी जैसे गूगल, माइक्रोसॉफ्ट और फेसबुक में बहुत अच्छे पैकेज पर जॉब करते है। 

IIT Full Form in Hindi and English

IIT Full Form in Hindi: IIT का फुल फॉर्म इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (Indian Institute of Technology) है। जिसका शार्ट नाम IIT होता है। एक बार यदि आप IIT से इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी कर लेते है, उसके बाद आपके कॉलेज में बहुत से बड़ी बड़ी कंपनी प्लेसमेंट के लिए आते है। जिसमे छात्रों का सिलेक्शन बहुत अच्छे कंपनी में अच्छे Package पर होता है। यदि आपका प्लेसमेंट किसी दूसरे देश में होता है, वंहा आपको Package बहुत अधिक मिलता है। 

IIT Admission Process in Hindi – IIT College में एडमिशन कैसे लें? 

IIT College में एडमिशन लेने के लिए सबसे पहले आपका यह जानना जरुरी है की IIT में एडमिशन के लिए Education Qualification क्या होता है?, आयु सिमा क्या होता है?, IIT College में कौन कौन से छात्र एडमिशन ले सकते है। इन बातो को जानना जरुरी होता है। 

सबसे पहले आपको बता दे की IIT College में प्रवेश (Admission) लेने के लिए आपको Entrance Exam देना होता है। Entrance Exam में शामिल होने के लिए आपको Class 10th पास करने के बाद Class 12th यानि इंटरमीडिएट साइंस स्ट्रीम से करना होता है। साथ ही आपको 12th साइंस स्ट्रीम में कम से कम 75% अंक लाना अनिवार्य है।  IIT Entrance Exam देने के लिए किसी तरह का आयु सीमा नहीं है। उसके बाद आपको IIT College में एडमिशन लेने के लिए दो एंट्रेंस एग्जाम निकलना होता है। दोनों एग्जाम क्वालिफाइड करने के बाद ही आपका एडमिशन आईआईटी कॉलेज में होता है। 

IIT Entrance Exam – IIT में एडमिशन के लिए Entrance Exam

यदि आप भी IIT College में एडमिशन लेना चाहते है और एडमिशन लेने के एंट्रेंस एग्जाम देना चाहते है, तो आपको सबसे पहले दो एंट्रेंस एग्जाम देना होगा। पहला JEE Main और दूसरा JEE Advance. सबसे पहले आपको JEE Main Entrance Exam देना होता है। JEE Main परीक्षा में Qualified छात्रों को दूसरा परीक्षा JEE Advance Exam देना होता है। JEE Advance परीक्षा में सफल छात्रों की IIT College में एडमिशन होता है। 

आपको बता दे की इंजीनियरिंग में अलग अलग ब्रांच होते है जैसे सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग, सिविल इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रानिक्स इंजीनियरिंग, मैकेनिकल इंजीनियरिंग आदि ब्रांच होते है। बहुत से छात्र यह तय कर लिए रहते है की उन्हें की ब्रांच से  इंजीनियरिंग करना है। लेकिन सभी छात्रों उनके पसंद की ब्रांच नहीं मिलता है। क्यूंकि अपने पसंद की ब्रांच से इंजीनियरिंग करने के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम सबसे अच्छे अंक लाने होते है तभी आपको अपने पसंद की ब्रांच मिलता है।

JEE Main Kya Hai – JEE Main Exam क्या है?

JEE Full Form Joint Entrance Exam होता है। JEE Main एक राष्ट्रीय स्तर की एंट्रेंस एग्जाम है। जो IIT, NIT, CFTI जैसे कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए एंट्रेंस एग्जाम लेता है। NTA (National Testing Agency) जो की एक भारत सरकार संस्था है। जो भारत में होने वाली परीक्षा से सम्बंधित सभी अहम फैसला लेने का काम करता है। NTA आने के बाद JEE Main Entrance Exam एक वर्ष में चार बार February, March, April और May आयोजित किया जाता है।  

JEE Main Exam Computer Based Mode में लिया जाता है। इसमें कुल 13 भाषाओं यानि Hindi, English, Assamese, Bengali, Gujarati, Kannada, Marathi, Malayalam, Odia, Punjabi, Tamil, Telugu एवं Urdu में परीक्षा लिया जाता है। इसमें दो पेपर का परीक्षा होता है एक बी.टेक में एडमिशन लेने के लिए दूसरा  Bachelor of Architecture एडमिशन लेने के लिए होता है। JEE Main से जुडी अधिक जानकारी के लेया आप JEE Main की ऑफिसियल वेबसाइट jeemain.nta.nic.in पर जा सकते है।

JEE Advance Kya Hai – JEE Advance क्या है?

JEE Advance एक एंट्रेंस एग्जाम है जिसके माध्यम हमारे देश के सबसे प्रसिद्ध इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए यह एग्जाम देना होता है। लेकिन JEE Advance देने से पहले आपको JEE Main Exam देना होता है। JEE Main परीक्षा में क्वालिफाइड करने के बाद आपका JEE Advance परीक्षा देना होता है। JEE Mainऔर JEE Advance दोनों परीक्षा में क्वालिफाइड छात्र को IIT जैसे में कॉलेज में एडमिशन लिया जाता है।  

IIT Entrance Exam Eligibility in Hindi 

  • छात्र किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से कक्षा कक्षा 10वीं पास करने के पद कक्षा 12वीं इंटरमीडिएट साइंस स्ट्रीम से पास होना चाहिए। 
  • साथ ही छात्र की कुल अंक न्यूनतम 75% अंक होना चाहिए। वही यदि छात्र SC, ST केटेगरी से आता है, तो उसके लिए न्यूनतम 65% अंक होना चाहिए। 
  • जो छात्र डिप्लोमा किए है वे छात्र भी IIT College में एडमिशन लेने के लिए IIT Entrance Exam यानि JEE Main परीक्षा दे सकते है।छात्र इंटरमीडिएट में Physics, Mathematics ये दोनों बिषय अवश्य होना चाहिए। इसके अलावा Chemistry, Biology/ Biotechnology बिषय होना चाहिए।  

IIT की तैयारी कैसे और कब से करें?

यदि आप IIT College में एडमिशन लेना चाहते है तो सबसे पहले पूरा अपने आप पर विश्वास करें की हमें IIT College में एडमिशन लेना ही है। इसके लिए आप Class 10th पास करने के बाद ही आप IIT की तैयारी सुरु कर दे। सबसे पहले आप सभी IIT की सभी जानकारी को प्राप्त करें जैसे IIT Kya Hai – आईआईटी क्या हैं?

इसके बारे में सभी जानकारी ले जो की आपको इस आर्टिकल मिल जायेगा। सभी जानकारी प्राप्त करने के बाद आप Intermediate Science Stream में किसी अच्छे कॉलेज में एडमिशन लें। साथ ही आप IIT JEE Main Entrance Exam की तैयारी के लिए एक अच्छा कोचिंग क्लास ज्वाइन करें। कोचिंग क्लास आप ऑनलाइन ऑफलाइन दोनों तरह से कर सकते है।  

IIT Entrance Exam Pattern in Hindi

JEE Main Exam Pattern BE/B.Tech

जैसे की आपको पता है की यह JEE Main का Exam ऑनलाइन आयोजित किया जाता है। परीक्षा अवधि की अवधि तीन घंटा का होता है। जिसमे परीक्षा की भाषा (Language) अंग्रेजी, हिंदी, असमिया, बंगाली, गुजराती, कन्नड़, मराठी, मलयालम, उड़िया, पंजाबी, तमिल, तेलुगु और उर्दू में होता है। जिसमे तीन बिषय से प्रश्न पूछें जाते है Mathematics, Physics, Chemistry और ये प्रश्न  बहुविकल्पीय प्रश्न (MCQ) और संख्यात्मक उत्तर वाले प्रश्न होते है। प्रतेक बिषय में 25 प्रश्न होते है। जिसमे कुल अंक 300 के होते है।

Negative Marking: JEE Main परीक्षा प्रतेक 1 प्रश्न के गलत उत्तर देने पर 1 अंक काट लिया जाता है। 

Subject  Number Of Question Marks
Physics  25 100
Chemistry 25 100
Math 25 100
Total  75 300

JEE Advance Exam Pattern BE/B.Tech

JEE Advance Exam में दो पेपर का परीक्षा होते है, जो की कंप्यूटर आधारति परीक्षा होता है। इसमें परीक्षा देने की भाषा दो ही होता है, Hindi और English दोनों में से किसी एक भाषा में यह परीक्षा दे सकते है। दोनों पेपर का परीक्षा अनिवार्य होता है।

प्रतेक पेपर के लिए 3 घंटा का समय दिया जाता है वही PWD (Person with Disability) उम्मीदवार के लिए 4 घंटा का समय दिया जाता है। प्रतेक पेपर की परीक्षा 3 बिषय Physics, Chemistry और Math से प्रश्न होता है। पहला पेपर 264 मार्क्स का होता है तथा दूसरा पेपर 240 मार्क्स का होता है।

Note: JEE Main Exam और JEE Advance Exam Pattern में प्रतेक वर्ष कुछ न कुछ परिवर्तन होता रहता है। इसीलिए छात्र Exam Pattern JEE Main और JEE Advance की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर चेक करें। जंहा आपको लेटेस्ट एग्जाम पैटर्न के बारे में पता चलेगा।

IIT College Fee For B.Tech Course

विभिन्न IIT College में UG कोर्स के लिए सीटों की संख्या लगभग 12 हज़ार होता है। हालांकि, लगभग 25 लाख उम्मीदवार हर साल IIT में प्रवेश लेने के लिए JEE Advance परीक्षा देते हैं। मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा जारी आधिकारिक जानकारी के अनुसार, पिछले वर्ष की फीस-संरचना 2022 के प्रवेश सत्र के लिए भी लागू होगी। IIT कॉलेजों में पाठ्यक्रम शुल्क में कोई बढ़ोतरी नहीं होगी। IIT की फीस प्रति वर्ष लगभग 2.5 लाख आती है।

आपको बता दे की सभी IIT College Fee एक जैसा नहीं होता है। IIT College में General, OBC उम्मीदवार का फी तथा SC, ST और PH उम्मीदवार फीस का अलग होता है। General, OBC उम्मीदवार को B.Tech कोर्स को पूरा करने का खर्च न्यूनतम 8 लाख से अधितम 10 लाख तक खर्च होता है। वही SC, ST और PH उम्मीदवार B.Tech कोर्स को पूरा करने का खर्च 60 हज़ार 3 लाख 50 हज़ार तक होता है।

Bharat me Kitne IIT College Hai – भारत में कितने आईआईटी कॉलेज है?

भारत में कुल IIT College की संख्या 23 है, जो भारत के अलग अलग राज्य और शहर में स्थित है। 

  • Indian Institute of Technology, IIT Kharagpur
  • Indian Institute of Technology, IIT Mumbai
  • Indian Institute of Technology, IIT Delhi
  • Indian Institute of Technology, IIT Kanpur
  • Indian Institute of Technology, IIT Madras
  • Indian Institute of Technology, IIT Roorkee
  • Indian Institute of Technology, IIT Guwahati
  • Indian Institute of Technology, IIT Bhubaneshwar
  • Indian Institute of Technology, IIT Gandhinagar
  • Indian Institute of Technology, IIT Jodhpur
  • Indian Institute of Technology, IIT Patna
  • Indian Institute of Technology, IIT Hyderabad
  • Indian Institute of Technology, IIT Indore
  • Indian Institute of Technology, IIT Varanasi
  • Indian Institute of Technology, IIT Tirupati
  • Indian Institute of Technology, IIT Dhanbad
  • Indian Institute of Technology, IIT Ropar
  • Indian Institute of Technology, IIT Bhilai
  • Indian Institute of Technology, IIT Goa
  • Indian Institute of Technology, IIT Mandi
  • Indian Institute of Technology, IIT Jammu
  • Indian Institute of Technology, IIT Palakkad
  • Indian Institute of Technology, IIT Dharwad.

IIT Karne Ke Fayde – आईआईटी करने के फ़ायदे?

  • IIT भारत के सबसे बड़े शिक्षा संस्थान में से एक है, यदि आप IIT College Engineering करते है तो यंहा आपको सबसे अच्छा Engineering Education की जानकारी दी जाती है। जिसके के कारन आपका Placement किसी कंपनी में बहुत आसानी से हो जाता है। 
  • IIT College में आपको सर्वश्रेष्ठ प्रोफेसर से पढ़ने का मौका मिलता है।
  • यदि आप IIT College पढ़ते है तो आपको वित्तीय सहायता (Financial Help) के रूप में छात्रवृत्ति (Scholarships) भी मिलता है। 
  • इन संस्थान से पढ़ने के बाद आपको Internships के लिए दुनिया अलग अलग विश्वविद्यालय में जाने का मौका मिलता है। 
  • IIT Engineering पूरा करने के बाद आपको बहुत बड़ी बड़ी कम्पनी में बहुत अच्छे पैकेज पर Placement होता है।  

Best Engineering Branches in India – अधिक सैलरी वाला इंजीनियरिंग ब्रांच 

वैसे तो आप IIT में किसी भी ब्रांच से कोर्स करते है तो आपको बहुत अच्छे पैकेज मिलता है। आप किसी भी ब्रांच से IIT Course पैकेज आपको अच्छा ही मिलता है। लेकिन हम आपको हम कुछ ऐसे ब्रांच के बारे में बताने वाले है, जिस ब्रांच से आप Engineering करते है तो आपको बहुत अधिक पैकेज मिलता है। 

  • Computer Science Engineering Information Technology
  • Mechanical Engineering
  • Electrical and Electronics Engineering
  • Civil Engineering 
  • Aeronautical Engineering

Computer Science Engineering Information Technology 

Computer Science Engineering में करियर का सबसे अधिक वेतन वाली नौकरियों में से एक माना जाता है।   इसमें बहुत सारे अवसर हैं, आईटी कंपनियां हर साल बड़ी संख्या में कंप्यूटर पेशेवरों को नियुक्त करती हैं। यह इंजीनियरिंग क्षेत्र में सबसे अधिक गुंजाइश क्षेत्र की शाखा है जो वर्तमान में भारत में फलफूल रहा है, नए कंप्यूटर विज्ञान स्नातकों के साथ-साथ अनुभवी के लिए नौकरियों से भरा है, कंप्यूटर इंजीनियर विभिन्न विभागों में IT Company में काम करने के लिए बहुत सारे विकल्प चुन सकते हैं। जैसे डिजाइन, विकास, असेंबली, निर्माण और रखरखाव, प्रोग्रामर, वेब डेवलपर और ई-कॉमर्स विशेषज्ञ, ऑटोमोटिव कंपनियों, एयरोस्पेस कंपनियों आदि के रूप में काम करना होता है। 

Mechanical Engineering 

Mechanical Engineering की BE Branches में से एक है, ये Engineering देश भर में काफी प्रसिद्ध है। मैकेनिकल इंजीनियर करने के बाद निजी और सरकारी दोनों क्षेत्रों में रोजगार पा सकते हैं। उन्हें कई उद्योगों में उपयोग की जाने वाली मशीनों और यांत्रिक प्रणालियों के एक सिंहावलोकन को डिजाइन, परीक्षण, स्थापित, निर्माण, संचालन और बनाए रखने की आवश्यकता होती है। मैकेनिकल इंजीनियरिंग केवल यांत्रिकी, मोटर वाहनों और ऊष्मप्रवैगिकी तक सीमित नहीं है, बल्कि वर्तमान तकनीक के अनुकूल होने के लिए व्यापक रूप से विस्तारित है। मैकेनिकल इंजीनियरिंग का दायरा बहुत तेजी से बढ़ना है, खासकर ऑटोमोबाइल सेक्टर में। इसमें भी आपको बहुत अधिल सैलरी मिलता है। 

Electrical and Electronics Engineering 

Electrical Engineering वह Branches है, जो बिजली प्रौद्योगिकी से संबंधित है। इलेक्ट्रिकल इंजीनियर छोटे माइक्रोचिप्स (Microchips) से लेकर बड़े पावर स्टेशन जेनरेटर तक कई तरह के कंपोनेंट्स, डिवाइसेज और सिस्टम्स पर काम करेंगे। इलेक्ट्रिकल इंजीनियर इलेक्ट्रिक मोटर, नेविगेशन सिस्टम, संचार प्रणाली और बिजली उत्पादन उपकरण जैसे विद्युत उपकरणों के निर्माण का डिजाइन, परीक्षण, विकास और संचालन करते हैं।

इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरों का रोजगार अब और 2022 के बीच 4% बढ़ने का अनुमान है, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग न केवल मोबाइल प्रौद्योगिकियों और वायरलेस संचार जैसे मुख्य क्षेत्रों में बल्कि नैनो टेक्नोलॉजी (Nano Technology) और बायोमेडिकल इंजीनियरिंग सहित अन्य क्षेत्रों में भी तेजी से बढ़ रहा है। यदि आप IIT College Electrical Engineering से करते है तो इसमें भी आपको बहुत अधिक सैलरी मिलता है।

Civil Engineering  

Civil Engineering: यह  इंजीनियरिंग की पारंपरिक ब्रांचो में से एक है।  सिविल इंजीनियर का कार्य योजना बनाना, डिजाइन करना, अनुमान लगाना, निर्माण का प्रबंधन करना, निष्पादन करना, निर्माण की निगरानी करना और भवन, सड़क, पुल, बांध आदि जैसी संरचनाओं का रखरखाव करना है। विशेष रूप से नौकरी के अवसरों की बात करें तो सिविल इंजीनियरिंग करने के बाद निजी और सरकारी  दोनों में नौकरी पा सकता है।

सार्वजनिक और निजी क्षेत्रों को भी लगभग हर क्षेत्र में सरकारी नौकरी मिलने का फायदा है। सरकारी क्षेत्र में नौकरी पाने वाले व्यक्ति के पास नौकरी हो जाता है।  इसके अलावा इन्हे अन्य लाभों के साथ देश भर में काम करने के लिए कई पद होते हैं। 

Aeronautical Engineering

Aeronautical Engineering में स्कोप बहुत प्रतिष्ठित और चुनौतीपूर्ण भी है। एरोनॉटिकल इंजीनियरिंग विमानन उद्योग की एक विशेष शाखा है। इस क्षेत्र में अध्ययन, निर्माण, डिजाइनिंग शामिल है। एरोनॉटिकल इंजीनियर्स की राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मांग है। भारत में सर्वश्रेष्ठ इंजीनियरिंग शाखाएं करियर के लिए भी यह एक है।

वे सार्वजनिक और निजी दोनों एयरलाइन सेवाओं में आवश्यक हैं, ये इंजीनियर एयरलाइंस, वायु सेना, कॉर्पोरेट अनुसंधान कंपनियों, रक्षा मंत्रालय, हेलीकॉप्टर कंपनियों, विमानन कंपनियों, NASA और कई अन्य में उपलब्ध हैं। इस क्षेत्र में कुछ शीर्ष भर्तीकर्ता HAL, DRDO, ISRO और अन्य हैं। 

यह भी पढ़े

Conclusion – IIT Kya Hai

दोस्तों हमें उम्मीद है की IIT Kya Hai इसकी सभी जानकारी के बारे में आप समझ गई होंगे। हमने इस आर्टिकल में IIT Kya Hai, IIT Full Form in Hindi, IIT Admission Process in Hindi, IIT Entrance Exam ये सभी जानकारी आपको इस आर्टिकल में दिया गया है। हमें Facebook पर फॉलो करें। 

FAQs – IIT Kya Hai

IIT Kitne Saal Ka Hota Hai – आईआईटी कितने साल का होता है?

IIT कितने साल का होता है यह आपके कोर्स पर निर्भर करता है। आपको बता दे की IIT एक कॉलेज है, जिसमे अधितकतर छात्र Engineering करने के लिए एडमिशन लेते है। यदि आप Engineering Course करते है तो इसमें आपको 4 साल समय लगता है।

IIT के लिए योग्यता कितना होना चाहिए?

IIT College में एडमिशन लेने के लिए आपका शैक्षणिक योग्यता कक्षा 12वीं साइंस स्ट्रीम से पास होना चाहिए। साथ ही कुल अंक 75% होना होना चाहिए।

भारत की सबसे अच्छा आईटीआई कॉलेज कौन सा है?

भारत की सबसे अच्छा आईटीआई कॉलेज IIT Bombay है। ये भारत के टॉप यूनिवर्सिटी में से एक है। IIT Bombay पुरे बिश्व में 152 नंबर पर आता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.